किसानों को खाद वितरण में किसी भी प्रकार की समस्या हुई तो नपेंगे अधिकारी

लखनऊ। प्रदेश मे साधन सहकारी समितियों पर खाद की उपलब्धता सुनिश्चित करने पर विशेष ध्यान रखा जाये। किसानों को खाद वितरण में किसी भी प्रकार की कोई समस्या नही होनी चाहिए। कहीं पर कोई गड़बड़ी पायी जाती है तो सीधे इसके लिए अधिकारी जिम्मेदार होंगे। श्री वर्मा आज विधान भवन स्थिति अपने कार्यालय कक्ष में विभागीय कार्यो की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि समस्त जिला सहकारी बैंकों में नेटवर्क की कनेक्टविटी की कठिनाई को दूर कराने हेतु सभी आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करायी जाये। इसमें किसी प्रकार की लापरवाही नहीं की जाये।
उन्होने कहा कि विभागीय लक्ष्यों के पूर्ति समय से सुनिश्चित किया जाये और साधन सहकारी समितियों को गतिशील बनाते हुए किसानो को खाद बीज आदि को उपलब्ध कराने में किसी भी प्रकार की दिक्कत नही आने पाये।
योजनाओं में लापरवाही हुई तो होगी कार्रवाई
उन्होने अधिकारियों को स्पष्ट रूप से निर्देशित किया कि किसानों को योजनाओं से लाभान्वित करने में किसी भी प्रकार उदासीनता और लापरवाही बर्दाश्त नही की जायेंगी। उन्होने जिला सहकारी बैंकों द्वारा वर्तमान में बैंक के अन्तर्गत संचालित मुख्य शाखा को माडल शाखा बनाये जाने पर बल देते हुए कहा कि इस दिशा में जो भी कार्य किये जाने है वह सभी आवश्यक कार्य कराते हुए शीघ्र कराया जाना सुनिश्चित करे।
समय पर दिया जाये फसल बीमा का लाभ
समीक्षा के दौरान उन्होने पाया कि खरीफ एवं रबी में वर्ष 2018-19 में फसल बीमा योजना के अन्तर्गत 12429 किसानों को लाभान्वित किया गया है। इस योजना के तहत किसानों को समयानुसार लाभान्वित कराया जाये तथा इसका ध्यान अवश्य रखा जाये। सहकारी समितियों की जमीन को समितियों के नाम दर्ज कराये जाने की कार्यवाही कराते हुए दर्ज करायी जाये।
इस अवसर पर प्रमुख सचिव सहकारिता एमवीएसरामी रेडडी, अपर निबंधक एवं अपर आयुक्त सहकारिता आन्द्रा वामसी, यूपीसीबी के प्रबन्ध निदेशक भूपेन्द्र कुमार व नाबार्ड के अधिकारी सहित अन्य सम्बधित अधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

8 − eight =