पढ़ने के लिए हो जाईये तैयार, यूपी के सभी ​​विश्वविद्यालय व महाविद्यालय खुलने के आदेश जारी, जानिए क्या है तैयारियां

कोरोना काल के बीच 23 नवंबर से प्रदेश के सभी उच्च शिक्षण संस्थान खुल जायेंगे। इस संबंध में मंगलवार को अपर मुख्य सचिव उच्च शिक्षा की ओर से आदेश के साथ गाइडलाइन जारी कर दी गयी है। अपर मुख्य सचिव उच्च शिक्षा मोनिका गर्ग ने बताया प्रदेश के सभी जिलों के जिलाधिकारियों, व उच्च शिक्षा निदेशक, के साथ निजी व सरकारी विश्वविद्यालयों के कुलपतियों को आदेश की कॉपी भेज दी गयी है। उन्होंने कहा कि कक्षाओं में अधिकतम 50 प्रतिशत विद्यार्थी ही उपस्थित रहेंगे। कॉलेज स्टॉफ को कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करने का आदेश दिया गया है। सचिव ने बताया कि नौ बिदुंओ की जारी गाइडलाइन में कक्षाओं के चरणबद्ध तरीके से संचालन, छात्रों की उपस्थित का मानक, व कोविड—19 की गाइडलाइन का अनिवार्यता से पालन करने के आदेश दिए गये हैं।

स्वास्थ्य केन्द्रों से संपर्क जरूरी

कोविड-19 बचाव के लिए नजदीकी अस्पतालों, स्वास्थ्य केन्द्रों, गैर सरकारी संगठनों, स्वास्थ्य विषेशज्ञों के संपर्क में रहना जरूरी। इसके साथ ही सभी शैक्षणिक गतिविधियों के लिए शैक्षणिक कैलेंडर,​ शिक्षण मोड, परीक्षा मूल्यांकन को पहले से अच्छी तरह से तैयारी रखना होगा।

शिक्षकों को इस गाइडलाइन का करना होगा पालन

—सभी शिक्षकों को पढ़ाये जाने वाले विषयों का अध्ययन जरूरी
— शिक्षण कार्य के दौरान समय-सारणी का रखना होगा ध्यान
—असाइनमेन्ट के साथ निरन्तर मूल्यांकन का रखना होगा ध्यान
— ई-संसाधनों की उपलब्धता के साथ खुद को अपडेट रखना जरूरी

संस्थानों को इन बातों का रखना होगा ध्यान

—एक कक्षा में 50 प्रतिशत होगी छात्रों की उपस्थिति
—फेस, मास्क, सोशल डिस्टेसिंग,थर्मल स्कैनिंग जरूरी
— सेनेटाइजर व हैंड वाॅश की जरूरी
—छात्रों के बैच के लिए रोस्टर प्रणाली जरूरी
—शिक्षकों और अधिकारियों को आईडी कार्ड जरूरी
—आॅनलाइन शिक्षण रहेगा जारी, शिक्षकों का प्रशिक्षण जरूरी
— संस्थानों में बाहरी व्यक्तियों के प्रवेश पर रोक
—प्रयोगशाला कम से कम रहे लोगों की उपस्थिति

छात्रों को दी गयी ये सलाह

– मोबाइल में आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करना चाहिए।
– छात्रों को शारीरिक एवं मानसिक रूप से स्वस्थ्य रहना चाहिए।
– छात्रों को ऐसी गतिविधियां विकसित करनी चाहिए जो प्रतिरक्षा बढ़ाने में उपयोगी हों। इनमें व्यायाम, योग, ताजे फल खाना, स्वस्थ्य भोजन और समय से सोना शामिल है।
– छात्रों को कोविड- 19 महामारी के मद्देनजर स्वास्थ्य एवं सुरक्षा उपायों के संबंध में विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का पालन करना चाहिए।