विदाई के समय फूटा गेल का दर्द, लीग में नहीं मिला सम्मान

जमैका। वेस्टइंडीज के आक्रामक बल्लेबाज क्रिस गेल ने मजांसी टी-20 लीग से विदाई के दौरान कहा कि उन्हें अच्छा प्रदर्शन न करने पर टीमें बोझ समझती हैं। गेल मजांसी सुपर लीग में जोजी स्टार्स की ओर से खेलते हैं। ये टीम पिछले साल की चैंपियन है पर अभी तक टूर्मानेंट में छह मुकाबलों में जीत का खाता नहीं खोल पाई है। गेल ने कहा कि उन्हें हार का जिम्मेदार न माना जाये।
उन्होंने अपने दर्द को सबके सामने रखते हुए कहा कि टी-20 लीग में उनके साथ अच्छा व्यवहार नहीं किया जाता और वह इससे दुखी हैं। गेल ने कहा कि उनको सभी लीग में वह सम्मान नहीं मिल पाता है, जो उन्हें मिलना चाहिये। 40 साल के सलामी बल्लेबाज गेल का प्रदर्शन इस बार अच्छा नहीं रहा और वह लीग में छह पारियों में केवल 101 रन ही बना पाये। इसी के साथ टूर्नामेंट को उन्होंने अलविदा कह दिया। रविवार को टूर्नामेंट के अंतिम मुकाबले में गेल ने 54 रन की शानदार पारी खेली थी, जो इस टूर्नामेंट में उनकी आखिरी पारी रही। गेल ने कहा कि जब एक या दो मैच में उनके बल्ले से रन नहीं निकलते तो अचानक ही वह टीम के लिए बोझ बन जाते हैं। गेल ने यह भी साफ कर दिया है कि इस बात को वह किसी एक टीम के लिए नहीं कह रहे हैं, बल्कि पिछले काफी समय से कई फ्रेंचाइजी के साथ खेलने के आधार पर कह रहे हैं। उन्होंने कहा कि अगर दो तीन मैच में रन नहीं पाते हैं तो उन्हें बोझ माना जाता है। ऐसा महसूस होता है जैसे एक खिलाड़ी ही पूरी टीम के बोझ बन गया और अगर एक बार ऐसा हो जाता है तो फिर इसके बाद कई तरह की बातें सुनते हैं।
(एजेंसी)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.