पूर्व चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया रंजन गोगोई अब जायेंगे राज्यसभा, राष्ट्रपति ने किया मनोनीत, अयोध्या में राम मंदिर पर दिया था फैसला

न्यूज डेस्क। भारत के पूर्व चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया रंजन गोगोई अब राज्यसभा जायेंगे। इसके लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उनका नाम मनोनीत कर दिया है। बता दे कि अयोध्या का एतिहासिक फैसला रंजन गोगोई के कार्यकाल में आया था। गोगोई ने अपने कार्यकाल में कई एतिहासिक फैसले भी दिए हैं। सोमवार को इस बारे में गृह मंत्रालय की ओर से अधिसूचना भी जारी हो चुकी है।
इस तरह से जारी हुई अधिसूचना
                              संविधान के अनुच्छेद 80 के खंड (1) के उपखंड (ए) और इसी अनुच्छेद के खंड (3) के तहत राष्ट्रपति राज्यसभा के नामित सदस्यों में से एक के रिटायरमेंट की वजह से रिक्त हुई सीट पर रंजन गोगोई को नामित करते हैं।‘ यह सीट केटीएस तुलसी के रिटायरमेंट की वजह से रिक्त हुई है। ” 

भारत के 46 वें मुख्य न्यायाधीश रहे हैं गोगोई
पूर्व चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया रंजन गोगोई भारत के 46वें मुख्य न्यायाधीश रहे हैं। गोगोई ने अपने कार्यकाल में एतिहासिक फैसले दिए हैं। साथ ही सुप्रीम कोर्ट में उन्होंने भरोसा देश का भरोसा बनाये रखने में अहम भूमिका निभायी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eight − 3 =