लाॅकडाउन का गंभीरता से करें पालन, देश में अब तक कोरोना पीड़ितों की संख्या हुई 1965

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने गुरूवार को जानकारी देते हुए कहा बुधवार से अब तक 328 नए केस सामने आए हैं और 12 नई मौतें रिपोर्ट हुई हैं। देश में कोरोना से संक्रमित मामलों की कुल संख्या 1965 हो गई है। देश अब तक कोरोना के संक्रमण की वजह कुल 50 मौते हुई हैं। वहीं अब तक 151 लोग ठीक हो चुके हैं। इससे पहले केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट को माने तो अब देश में कोरोना पीड़ितों की संख्या 1637 हो चुकी हैं। इससे पहले स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट में कहा गया था कि भारत में कोरोना वायरस का संक्रमण अभी दूसरे चरण में हैं, इस बात की स्थति सोमवार केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने स्पष्ट की। देश में कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए उठाए जाने वाले कदमों को लेकर सोमवार को स्‍वास्‍थ्‍य और गृह मंत्रालय की बैठक में यह जानकारी दी। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के संयुक्‍त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि पिछले 24 घंटों में के कारण चार लोगों की मौत हुई है और 92 नए मामले सामने आए हैं। अब तक देश में 1071 कुल मामले सामने आए हैं और भारत में मौतों की संख्या 29 हो गई है। लव अग्रवाल ने कहा कि हम सभी को सामाजिक दूरी बनाए रखनी चाहिए। यहां तक कि एक व्यक्ति की लापरवाही से कोरोना वायरस महामारी के रूप में फैल सकती है। तकनीकी रूप से भारत में अभी भी स्थानीय ट्रांसमिशन चरण में है, अब तक कोई सामुदायिक प्रसारण नहीं हुआ है। अगर भारत में यह सामुदायिक ट्रांसमिशन लेवल पर पहुंचता है तो मंत्रालय इस बारे में बताएगी। बता दे कि दूसरा चरण में संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से उसके परिजन, रिश्तेदार या दोस्तों में संक्रमण होने लगता है। हमें यह पता होता है कि वायरस कहां से फैल रहा है, ऐसे में इसे रोकना ज्यादा कठिन नहीं होता है। वहीं तीसरे चरण में यानी सामुदायिक ट्रांसमिशन स्टेज। इटली और स्पेन जैसे देश इस समय कोरोना के तीसरे स्टेज में हैं। इस स्टेज में कोई ऐसा व्यक्ति भी संक्रमित हो सकता है जो न तो कोरोना वायरस से प्रभावित देश से लौटा है और न ही वह किसी दूसरे कोरोना वायरस संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आया हो। दरअसल, इस चरण में हम यह नहीं जान पाते कि संक्रमण कहां से फैल रहा है।

9000 तब्लीगी जमात कार्यकर्ता क्वारंटाइन में
गृह मंत्रालय की संयुक्‍त सचिव पुण्‍य सलिला श्रीवास्‍तव ने कहा कि गृह मंत्रालय ने 9000 तब्लीगी जमात कार्यकर्ताओं और उनके संपर्कों की पहचान की है, और उन्हें क्‍वारंटाइन में रखा है। इन 9000 लोगों में से 1306 विदेशी हैं और बाकी भारतीय हैं। उन्होंने बताया कि दिल्ली में लगभग 2,000 तबलीगी जमात के सदस्यों में से 1,804 को क्वॉरंटाइन किया गया है, 334 को अस्पतालों में भर्ती कराया गया है।
लोगों से घर में रहने की अपील
कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए केन्द्र सरकार के साथ-साथ राज्यों की सरकारें भी लगातार लोगों से अपील कर रही हैं कि लाॅकडाउन पीरियड तक लोग अपने-अपने घरों में रहें, इसके लिए लोगों को जरूक भी यिका जा रहा है, पुलिस प्रशासन के अधिकारी भी लगातार लोगों लगातार जागरूक करने के लिए जुटे हुए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

fifteen + 7 =