एलेन हाउस पब्लिक स्कूल ने मनाया राष्ट्रीय युवा दिवस, स्वामी विवेकानंद को बच्चों ने किया याद

राजधानी के वृंदावन योजना 6 सी में स्थित एलेन हाउस पब्लिक स्कूल में मंगलवार को स्वामी विवेकानंद के जन्म दिवस पर राष्ट्रीय युवा दिवस मनाया गया, इस मौके पर लाइव स्टरीमिंग भी हुई। कार्यक्रम की शुरूआत लोकसभा टीवी पर राष्ट्रीय युवा संसद महोत्सव 2021 की लाइव स्टरीमिंग से की गयी। सुबह 10 बजे से शुरू हुए कार्यक्रम में मानव संसाधन विकास व केन्द्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियल निशंक के भाषण को भी बच्चों ने ध्यान से सुना।

प्रधानाचार्या ने बताया कि स्वामी विवेकानंद का इतिहास
इस मौके पर उपस्थित कक्षा से 6 10 के बच्चों के को विद्यालय की प्रधानाचार्या गुजंन मेहरोत्रा ने बच्चों को स्वामी विवेकानंद के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि भारत को आध्यात्म से जोड़ने वाले महापुरुष स्वामी विवेकानंद जी का जन्म आज ही के दिन 12 जनवरी सन् 1863 को कोलकाता में हुआ था। उनके बचपन का नाम नरेन्द्रनाथ दत्त था और उनके पिता पिता विश्वनाथ दत्त कलकत्ता हाईकोर्ट के एक प्रसिद्ध वकील थे। उन्होंने बताया कि महज 39 साल का जीवन जीने वाले स्वामी विवेकानंद के जन्मदिवस (12 जनवरी) को देश में युवा दिवस के रूप में मनाया जाता है।

 

अमेरिका के शिकागो में दिया था यादगार भाषण
प्रधानाचार्या ने बताया कि 1893 में अमेरिका के शिकागो में विश्व धर्म सम्मेलन में दिया उनका भाषण आज भी किसी भारतीय के द्वारा दिए गए सबसे प्रभावी भाषणों में माना जाता है। अपने संबोधन में स्वामी विवेकानंद ने सांप्रदायिकता, धार्मिक कट्टरता और हिंसा का जिस तरह से उल्लेख किया था वह आज सवा सौ साल के बाद भी उतने ही भयावह रूप में उपस्थित हैं।  उन्होंने कहा था कि अगर यह बुराइयां न होतीं तो दुनिया आज से कहीं बेहतर जगह होती।

सफलता के लिए अहंकार का नाश जरूरी
युवाओं के लिए स्वामी विवेकानंद का संदेशस्वामी विवेकानंद जी का कहना था कि ‘अगर तुम खुद ही नेता के रूप में खड़े हो जाओगे, तो तुम्हें सहायता देने के लिए कोई भी आगे नहीं बढेगा। अगर सफल होना चाहते हो, तो पहले अहं का नाश करो।’ स्वामी विवोकानंद के विचारों ने युवाओं को काफी प्रेरित किया है। इस मौके पर विद्यालय की Headmistress शालिनी श्रीवास्तव ने भी अपने विचारों को साझा किया।