प्रदेश की जनता को करंट का झटका देने की तैयारी, बढ़ेगा बिजली का बिल

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की जनता को अब करंट का झटका देने की तैयारी है। अब जनता को बिजली का बिल 12 प्रतिशत और अधिक चुकाना होगा। प्रदेश विद्युत नियामक आयोग के चेयरमेन एस के अग्रवाल ने ये जानकारी दी है। अब जनता को शहरी स्तर पर 15० यूनिट तक 4.9० रूपए की दर से, 15० से 3०० यूनिट तक 5.4० रुपए की दर से बिजली मिल सकेगी।
ग्रामीण क्ष्ोत्रों में दो गुना हुई बढ़ोत्तरी
चेयरमैन एसके अग्रवाल ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली दरों में दोगुना बढ़ोत्तरी की गयी है। इसमें अब ग्रामीणों को अब 1०० यूनिट तक 3.० रुपये प्रति यूनिट, 1०० से 15० यूनिट तक 3.5० रुपये प्रति यूनिट और 15० से 3०० यूनिट के लिए 4.5० रुपए प्रति यूनिट के हिसाब से बिल देना होगा।
बिना मीटर वाले उपभोक्ता अब देंगे 4०० प्रति माह
चेयरमैन ने बताया कि बिना गांवो के जो उपभोक्ता बिना मीटर के विधुत का उपयोग कर रहे हैं उन्हें अब 3०० रुपए प्रति माह देना होगा। इसकी समय सीमा 31 मार्च है। इसके बाद फिक्स चार्ज 4०० रुपए प्रति माह देना होगा।
2० फीसदी तक बढ़ाने का था प्रस्ताव
विधुत नियामक आयोग के चेयरमैन एसके अग्रवाल ने बताया कि 12 फीसदी बिल में बढ़ोत्री की गयी है। लेकिन 2० प्रतिशत बढ़ाये जाने का प्रस्ताव तैयार किया गया था। उन्होंने बताया कि मौजूदा समय में 1 करोड़ 2० लाख बिजली उपभोक्ता हैं। 2०18-19 में यह संख्या बढ़कर 4 करोड़ होने जा रहे है। गरीबों को बिजली का मुफ्त कनेक्शन दिया जाएगा जिससे करीब 2 करोड़ उपभोक्ता की संख्या बढ़ जायेगी।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

13 + twenty =