मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में कांग्रेस की होगी ताजपोशी, बुलायी गयी विधायकों की बैठक

न्यूज डेस्क। पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव में अच्छे प्रदर्शन की बदौलत मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में बीजेपी को शिकस्त देकर कांग्रेस अपनी ताजपोशी की ओर पहुंच गयी हैं कांग्रेस ने मंगलवार को छत्तीसगढ़, राजस्थान और मध्य प्रदेश में अपने केंद्रीय पर्यवेक्षकों को भेजा है जो विधायक दल के नेताओं के चुनाव की निगरानी करेंगे. सूत्रों ने यह जानकारी दी. लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे को छत्तीसगढ़ में पर्यवेक्षक के तौर पर भेजा गया है. कांग्रेस नेता के सी वेणुगोपाल को राजस्थान, जबकि एके एंटनी को मध्य प्रदेश के लिए पर्यवेक्षक नियुक्त किया गया है. तीनों राज्यों में कांग्रेस विधायक दल की बैठक बुधवार को होगी, जिसमें विधायक दलों के नेता चुने जाएंगे. केंद्रीय पर्यवेक्षक नवनिर्वाचित विधायकों से बात करेंगे, उनकी राय जानेंगे और विधायक दल के नेता के चुनाव की निगरानी करेंगे मध्य प्रदेश में कांग्रेस 230 में से 114 सीट जीतकर सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है, जबकि 15 साल से सत्ता पर काबिज बीजेपी के खाते में 109 सीटें आई हैं, जबकि बीएसपी को 2, सपा को एक और अन्य के खाते में 4 सीटें गई हैं. हालांकि कांग्रेस बहुमत के आंकड़े से दो कदम पीछे रह गई है. इससे पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमलनाथ ने भोपाल में कांग्रेस पार्टी दफ्तर पर प्रेस कांफ्रेंस की थी और दावा किया था कि उनकी पार्टी राज्य में पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाने जा रही है. साथ ही उन्होंने कहा था कि नतीजों के बाद एमपी की जनता विकास की अलग यात्रा पर होगी. मध्यप्रदेश में प्रदेश कांग्रेस प्रमुख कमलनाथ और पार्टी के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया मुख्यमंत्री पद की दौड़ में शामिल हैं। राजस्‍थान विधानसभा चुनावों में बेहतर प्रदर्शन कर कांग्रेस पार्टी सत्‍ता में लौट रही है. कांग्रेस 99 सीट जीतकर सबसे बड़ी पार्टी बनी है, जबकि बीजेपी ने 73, बीएसपी ने 6 और अन्य के खाते में 21 सीटें गई हैं. राजस्थान में मुख्‍यमंत्री का साफा किसके सिर बंधेगा बुधवार को इसका फैसला हो जाएगा. मुख्‍यमंत्री का नाम तय करने के लिए बुधवार सुबह 11 बजे से कांग्रेस विधायकों की बैठक होनी है. हालांकि मुख्यमंत्री पद की दौड़ में अशोक गहलोग और सचिन पायलट शामिल हैं।

Input -Ndtv india

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.