मेधावी किसान की बेटी को सीएम योगी ने दिया एक लाख का चेक, खुश हुए माता पिता

लोहिया विधि विश्वविद्यालय में रविवार को बोर्ड परीक्षा के मेधावियों के सम्मान के दौरान  किसान की बेटी को सीएम योगी ने जब अपने हाथों से एक लाख रूपए का चेक और टैबलेट देकर सम्मानित किया तो वह खुशी से झूम उठी। फतेहपुर से आयी प्रज्ञा ने दसवीं क्लास में 94.31 प्रतिशत अंक अर्जित किये है। इनके पिता महेंद्र कुमार किसान है और माता गीता देवी गृहणी है। प्रज्ञा ने फिरोजपुर के कृष्णा इंटर कालेज से दसवीं पास की है और वह भविष्य में आइएएस बनना चाहती है। उसे मुख्यमंत्री ने एक लैबलेट व एक लाख रुपये दिया गया है। प्रज्ञा ने बताया कि कभी सोचा नहीं था कि मुख्यमंत्री के हाथ से सम्मानित होने का मौका मिलेगा। सम्मान देने के दौरान मुख्यमंत्री योगी ने मेरा नाम और स्कूल का नाम पूछा था। ये मेरे जीवन की सबसे बड़ी प्रेरणा है। प्रज्ञा को एक लाख रूपए का चेक मिला है।
क्या बोले टॉपर छात्र
आईएएस बनेंगी नैंसी
90.33 प्रतिशत अंको के साथ पास हुई दसवीं की छात्रा नैंसी कहती हैं कि वह आईएएस बनकर देश की सेवा करना चाहती हैं। नैंसी नियमित पढ़ाई पर ज्यादा भरोसा रखती हैं। झांसी की रहने वाली नैंसी के पिता दिनेश कुमार प्राइवेट नौकरी करते हैं जबकि माता सुमन देवी ग्रहणी हैं।
इंजीनियर बनकर देश की सेवा करेंगे सत्येन्द्र
91.5 प्रतिशत अंको के साथ 10 वीं कक्षा में पास हुए सत्येन्द्र सिंह चौहान का कहना है कि नियमित एक समय से पढ़ा जाये तो कोचिंग की आवश्यकता नहंी होती है। सत्येन्द्र ने कहा कि वह आईआईटी इंजीनियर बनकर देश का नाम रोशन करना चाहते हैं। सत्येन्द्र के पिता भीम सिंह प्राइवेट नौकरी करते हैं, उनका सपना है कि वह इंजीनियर बनें
डॉक्टर बनकर करेंगी लोगों की सेवा
वहीं 12 वीं की परीक्षा में टॉपर रही खुशनुमा बानो ने बताया कि वह डॉक्टर बनकर लोगों की सेवा करना चाहती हैं। उन्होंने कहा कि वह नीट की तैयारी कर रही हैं उनके माता पिता का भी सपना है कि वह डॉक्टर बनकर देश की सेवा करे। खुशनमा ने बताय कि लक्ष्य को मन में रखकर पढ़ाई करना चाहिए।
आईआईटीएयन बनेंगे गौरव
झांसी से आये गौरव प्रताप ने दसवीं क्लास में 90.16 प्रतिशत अंक अर्जित किये है। इनके पिता संतोष कुमार प्राइवेट स्कूल में शिक्षक है और माता भगवती देवी गृहणी है। गौरव ने झांसी के सेंट मेरी इंटर कालेज से दसवीं पास की है और वह भविष्य में आईआईटीयन बनना चाहता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twenty − thirteen =