बौद्ध भिक्षु प्रज्ञानंद को सीएम योगी और मायावती ने दी श्रद्धांजलि

लखनऊ। पूर्व मुख्यमंत्री व बसपा सुप्रीमों मायावती ने बाबा साहेब को दीक्षा प्रदान करने वाले बौद्ध भिक्षु प्रज्ञानंद को श्रद्धांजलि दी। लखनऊ में मौजूद प्रज्ञानंद का पार्थिव शरीर के अंतिम दर्शन को मायावती पहुंची थी। वही चुनाव में जीत के बाद पीएम मोदी से मुलाकात कर दिल्ली से लखनऊ लौटने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बौद्ध भिक्षु प्रज्ञानंद को श्रद्धांजलि अर्पित की। इस दौरान मुख्यमंत्री योगीआदित्यनाथ ने कहा कि प्रज्ञानंद ने ने बौद्ध मठ के प्रचार के लिए पूरा जीवन अर्पित किया। उन्होंने बाबा साहब अम्बेडकर के साथ लंबा वक्त बिताया था। सीएम योगी उन्होंने कहा कि बौद्ध भिक्षु प्रज्ञानंद का अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ होगा। प्रज्ञांनद एक लंबी बीमारी से संघर्ष कर रहे थ्ो। केजीएमयू के गांधी वार्ड में इलाज के दौरान उनका निधन हो गया था। डॉक्टरों के मुताबिक उनकों सीने में दर्द और सांस लेने की दिक्कत हो रही थी। श्रीलंका में जन्में प्रज्ञानंद 1942 को भारत आ गये थ्ो। उन्होंने 14 अप्रैल 1956 को नागपुर में सात भिक्षुओं के साथ बाबा साहेब को बौद्ध धर्म की दीक्षा प्रदान की थी। जबकि इससे पहले बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर हिन्दू धर्म छोड़कर बौद्ध धर्म स्वीकार किया था। 195० से 1956 के दौर में वह बौद्ध धर्म से इतना प्रभावित हुए कि 14 अक्टूबर 1956 को बौद्धधर्म की दीक्षा ग्रहण की।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

5 × three =