राष्ट्रपति के अभिभाषण के साथ बजट सत्र की शुरूआत, सरकार की गिनायी उपलब्धियां

file photo

नई दिल्ली-न्यूज डेस्क। सोमवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण के साथ बजट सत्र के पहले भाग की शुरूआत हो गयी। इस दौरान सबसे पहले उन्होंने सभी देशवासियों को गणतंत्र दिवस समेत आने वाले सभी त्योहारों के लिए बधाई भी दी। उन्होंने कहा कि सरकार सामाजिक और आर्थिक परिस्थिति को मजबूत करने का काम कर रही है।
शौचालयों से सरकार कर रही मदद
राष्ट्रपति ने कहा कि आमजनों के घरो में शौचालय बनवाकर सरकार ने एक खास पहल की है। इससे आमजनों की सरकार ने मदद की है। राष्ट्रपति ने कहा कि 2०19 तक स्वच्छ भारत बनाकर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि देने के लिए तत्पर है। राष्टपति ने कहा कि स्वच्छ भारत अभियान ने देश में एक अहम भूमिका निभायी है।
सरकार गरीबो की पीड़ा दूर करने की कर रही कोशिश
राष्ट्रपति ने कहा कि सरकार गरीबों की पीड़ा को समझती है इससे निजात के लिए कई कदम भी उठा रही है। राष्ट्रपति ने कहा कि सरकार ने संसद में तीन तलाक बिल पेश किया, जल्द ही इसे कानून भी बनाया जाएगा। देश में बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ का दायरा बढ़ रहा है। सरकार गरीबों की पीढ़ा को दूर करने की कोशिश कर रही है, 64० जिलों में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की योजना चल रही है।

किसानों की आय दोगुना करने पर जोर
राष्ट्रपति ने बताया कि सरकार किसानों पर भी ध्यान दे रही है जिसके तहत किसानों आय दोगुना हो इस पर भी प्रयास जारी जारी है। उन्होंने कहा कि दाल के उत्पादन में 38 फीसदी की रिकॉर्ड बढ़ोतरी दर्ज हुई है। 99 सिचाई परियोजना को पूरा करना सरकार का लक्ष्य है, अनाज की बर्बादी को रोकने के लिए सरकार ने योजना बनाई है। उन्होंने कहा कि सरकार के कार्यकाल में यूरिया का उत्पादन बढ़ा है। जनधन योजना के तहत करीब 31 करोड़ बैंक खाते खोल दिए गए हैं।

8० लाख वरिष्ठ नागरिकों को पेंशन की सेवा
राष्ट्रपति ने कहा कि सरकार अटल पेंशन योजना के तहत 8० लाख वरिष्ठ नागरिकों की सेवा कर रही है। इसके अलावा प्र्रधानमंत्री फसल बीमा योजना और किसानों की बीमा करवाने का काम भी सरकार कर रही है। गांवों को सरकार डिजिटल बनाने का काम कर रही है। ऐसे में सस्ती दरों में डिजिटल सेवा भी उपलब्ध करायी जा रही है।

2०19 तक हर गांव को सड़क से जोड़ने का लक्ष्य
राष्टपति ने कहा कि 2०19 तक हमारा लक्ष्य है कि सभी गांव मुख्य सड़कों तक जरूर जुड़ जाये ताकि लोगों को राहत मिले और रोजगार को बढ़ावा मिल सके। उन्होंने कहा कि सरकार ने सौभाग्य योजना से 4 करोड़ घरों में बिजली पहुंचाई है. अब तक 82 फीसदी गांवों को सड़क से जोड़ा जा चुका है।

दिव्यांगो के लिए सरकार कर रही काम
राष्ट्रपति ने कहा कि सरकार दिव्यांगो के लिए काम कर रही है। हमारे देश में 2.5 करोड़ दिव्यांग हैं। इसके अलावा सरकारी नौकरी में चार और उच्च शिक्षा में पांच फीसदी आराक्षण दिया जा रहा है।

अल्पसंख्यकों के लिए सरकार कर रही काम
राष्ट्रपति ने कहा कि सरकार सशक्तिकरण के लिए प्रतिबद्ध है ऐसे में अल्पसंख्यकों का पूरा ध्यान दिया जा रहा है। जिसमें सीखो और कमाओ, उस्ताद जैसी कई योजनाओं को आगे बढ़ाया जा रहा है. पहली बार मेहरम के नियम को बदला गया है, इसके तहत अब 45+ उम्र की महिला बिना किसी पुरुष साथी के हज पर जा सकती है।

93 लाख लोगों के लिए बनाया गया घर
राष्ट्रपति ने कहा कि सरकार ने ग्रामीणों को राहत देते हुए उनके लिए घरों का इंतजाम कराया है। उन्होंने कहा कि सरकार ने अब तक 93 लाख लोगों के घरों का निर्माण किया है। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी के अंतर्गत गरीबों को घर बनवाने लिए ब्याज में 6 प्रतिशत की दर से राहत दी गयी है। उन्होंने कहा कि सरकार का लक्ष्य है कि 2०22 तक हर गरीब को घर मिल जाये।
बेहतर स्वास्थ्य सुविधा के लिए नई स्वास्थ्य नीति
राष्ट्रपति ने कहा कि सरकार ने गरीब और मध्यम वर्ग के लोगों को स्वास्थ्य की बेहतर और सस्ती सुविधा के लिए नई ‘राष्ट्रीय स्वास्थ्य नीति’ बनाई है। ‘प्रधानमंत्री जन औषधि’ केन्द्रों के माध्यम से गरीबों को 8०० तरह की दवाइयां सस्ती दरों पर दी जा रही है।

इनपुट डीडी न्यूज लाइव प्रसारण के आधार पर

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twelve − nine =