बाइटलैंड इंटर कॉलेज की मान्यता होगी वापस, जांच के बाद डीआईओएस ने की संस्तुति

लखनऊ। छात्रा की ओर से एक कक्षा 1 के छात्र पर चाकू से हमला किए जाने के बाद चर्चा में आये लखनऊ के ब्राइट लैंड इंटर कॉलेज की मान्यता छीन ली जायेगी। जिला विद्यालय निरीक्षक डा.मुकेश कुमार सिंह ने जांच के बाद मान्यता वापस लिए जाने की संस्तुति कर दी है। डीआईओएस ने बताया कि कॉलेज को न सिर्फ विद्यार्थियों की सुरक्षा में लापरवाही बरतने बल्कि मानक के अनुसार कक्षाएं व प्रयोगशालाएं भी नहीं हैं। सोमवार को त्रिवेणी नगर में स्थित ब्राइट लैंड कॉलेज खुलने के बाद डीआइओएस व जांच टीम मौके पर पहुंची थी। जांच कमेटी में सह जिला विद्यालय निरीक्षक आंग्ल भाषा रीता सिह और हुसैनाबाद इंटर कॉलेज के प्राचार्य हरीश चंद्र शामिल हैं।
गौरतलब है कि स्कूल प्रशासन ने पूरे छात्र पर हमले की घटना को दबाया था, लेकिन जब मामला मीडिया में आया तो हड़कंप मच गया था। इधर शिक्षा विभाग की जांच व अभिभावकों द्बारा सुरक्षा मानकों की अनदेखी करने के विरोध के चलते इस कॉलेज ने बीते शुक्रवार व शनिवार को अचानक अवकाश कर दिया था। ऐसे में छुट्टियों के बाद सोमवार को जैसे ही कॉलेज खुला जांच कमेटी मौके पर पहुंची थी।

जांच टीम को मिली ये खामियां
-गलत ढंग से नर्सरी टीचर्स ट्रेनिग (एनटीटी) का कोर्स चलाना
-मानक के अनुसार कक्षाएं व प्रयोगशालाएं भी नहीं हैं
– कक्षा तीन व कक्षा चार कॉलेज की दूसरी पुरानी बिल्डिंग में चलाई जा रही हैं
-कॉलेेज प्रबंधन कानून का उल्लघंन करने का भी दोषी है।
-छात्र पर हमले के बाद पूरे मामले को कॉलेज प्रबंधन पर दबाने का भी आरोप है।
-मीडिया में मामला आने के बाद भी प्रबंधक ने दिया गोलमोल जवाब
-शिक्षा विभाग के अधिकारियों से पहले नहीं बतायी सही बात

मान्यता एक सेक्शन की और चला रहे तीन कॉलेज
लखनऊ। जांच में डीआईओएस ने ये भी पाया कि कॉलेज के पास एक ही सेक्शन की मान्यता है लेकिन तीन मिलते जुलते नामों से और कॉलेज चल रहे हैं। जो कि गलत है। यूपी बोर्ड ने ब्राइट लैंड इंटर कॉलेज नाम से ही मान्यता दी है। वहीं यहां त्रिवेणी नगर में कॉलेज की बिल्डिंग व आसपास जो बोर्ड लगे हैं उनमें ब्राइट लैंड कॉलेज व ब्राइट लैंड स्कूल लिखा है। ऐसे में एक कॉलेज के तीन नाम हैं। जांच कमेटी की रिपोर्ट के अनुसार इस कॉलेज को विभिन्न कक्षाओं के एक सेक्शन चलाने की मान्यता मिली थी लेकिन वह सेक्शन ए, सेक्शन बी व सेक्शन सी आदि चला रहे थे।

कक्षा एक से मान्यता पढ़ा रहे थ्ो प्री नर्सरी से
ब्राइट लैंड इंटर कॉलेज को कक्षा एक से पढ़ाई करवाने की मान्यता मिली हुई है, लेकिन यह अपने यहां पर नर्सरी व केजी की कक्षाएं भी चला रहा है। ऐसे में जांच कमेटी ने इसे भी गलत माना है। इस पर डीआईओएस ने इसे एक बड़ी कमी बताया है। डीआईओएस ने कहा कि प्रबंधन की मनमानी नहीं चलेगी मान्यता जाना तय है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

18 − 15 =