31 मार्च से शुरू होंगे अरबी फारसी विश्वविद्यालय में आवेदन, कुलपति ने की घोषणा

न्यूज डेस्क। ख्वाजा मोइनुद्दीन उर्दू अरबी फारसी विश्वविद्यालय में शैक्षिक सत्र 2020-21 में दाखिले के लिए आवेदन प्रक्रिया 31 मार्च से शुरू हो जायेगी। इस बारे में जानकारी देते हुए विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. माहरूख मिर्जा ने बताया कि नये सत्र से साइंस में स्नातक स्तर पर 12 कोर्स और कम्प्यूटर साइंस में आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस एंड मशीन लर्निंग की पढ़ाई भी शुरू होगी। विश्वविद्यालय के कुलपति ने बताया कि नये सत्र में भी आॅफलाइन आवेदन की प्रक्रिया शुरू होगी। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय आनलाइन भी आवेदन लेता है लेकिन छात्रों की सुविधा को देखते हुए आॅफलाइन आवेदन प्रक्रिया बंद नहीं की जा रही है।
स्नातक में 11 नये कोर्सों का संचालन
विश्वविद्यालय में इस बार स्नातक स्तर पर 11 नये कोर्स भी शुरू होने जा रहे हैं। कुलपति ने बताया कि ये सभी कोर्स सांइस से जुड़े है। इसमें बीएससी आनर्स भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान, गणित, कम्प्यूटर साइंस, इलेक्ट्रॉनिक्स, स्टैटिस्टिक्स, जूलॉजी, बॉटनी, बायोटेक्नोलॉजी, माइक्रोबायोलॉजी, इण्डस्ट्रियल केमेस्ट्री हैं।
स्नातक स्तर पर इन कोर्सों में होंगे दाखिले
स्नातक स्तर पर जिन कोर्सों में दाखिलें शुरू होंगे उनमें बीए आॅनर्स उर्दू, अरबी, फारसी, इतिहास, अर्थशास्त्र, राजनीति शास्त्र, हिंदी, संस्कृत, शिक्षाशास्त्र, भूगोल, गृह विज्ञान, शारीरिक शिक्षा, समाज शास्त्र में दाखिला मिलेगा। वहीं बीकाॅम आनर्स में बीबीए, बीए-जेएमसी, बीसीए, बीएससी (गृह विज्ञान), बीएससी (भूगोल), बीएड में 60 सीटों पर पर प्रवेश मिलेगा। एमकॉम, एमबीए, एमए-जेएमसी, एमसीए में प्रत्येक कोर्स में 60 छात्रों को प्रवेश मिलेगा। वहीं स्नाकोत्तर नातकोत्तर स्तर पर एमए उर्दू, अरबी, फारसी, इतिहास, अंग्रेजी, भूगोल, गृह विज्ञान, शिक्षाशास्त्र में 30 सीटों पर प्रवेश होगा।
इंजीनियरिंग में 60 सीटों पर दाखिला
इसके साथ ही अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद से मान्यता प्राप्त अभियांत्रिकी एवं प्रौद्योगिकी संकाय में बीटेक के पांच विषय कम्प्यूटर सांइस एण्ड इंजीनियरिंग, फैशन टेक्नोलॉजी, बॉयोटेक्नोलॉजी, सिविल इंजीनियरिंग, मैकेनिकल इंजीनियरिंग में 60 छात्रों का दाखिला लिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

three × 2 =