अभियान में घायल श्वान की पहचान नहीं खोलेगा अमेरिका,सुरक्षा के मद्देनजर लिया फैसला

वाशिंगटन। पेंटागन ने कहा कि उत्तर पश्चिमी सीरिया में अमेरिकी हमले में इस्लामिक स्टेट के सरगना अबू बक्र-अल बगदादी को मौत के घाट उतारने के अभियान के दौरान घायल हुए श्वान की पहचान उजागर नहीं करेगा।
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने उत्तर-पश्चिमी सीरिया में अमेरिका के विशेष बलों के हमले में बगदादी के मारे जाने की घोषणा की थी। बताया गया था कि उत्तर पश्चिमी सीरिया में अमेरिका के सैन्य श्वान दस्ते ने एक तरफ से बंद सुरंग में आईएस सरगना का पीछा किया और जब उसके पास बचने का कोई रास्ता नहीं बचा तो उसने आत्मघाती जैकेट में विस्फोट करके खुद को और तीन अन्य को उड़ा लिया था। ज्वाइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ के अध्यक्ष जनरल मार्क मिले ने कहा कि के-9 सैन्य श्वान ने बेहतरीन काम किया, जैसा कि वे सभी विभिन्न स्थिति में करते हैं। वह मामूली रूप से घायल हो गया है । अमेरिकी रक्षा मंत्री मार्क एस्पर के साथ एक संवाददाता सम्मेलन में अमेरिका के शीर्ष जनरल ने कहा कि सैन्य श्वान अब भी कार्यस्थल पर है और अपने हैंडलर के साथ ड्यूटी पर लौट आया है। इसलिए हम अभी उसकी कोई तस्वीरें या नामया अन्य कुछ जारी नहीं कर रहे हैं। यह गोपनीय है। एस्पर ने कहा कि उसकी पहचान की रक्षा कर रहे हैं। मिले ने बात का समर्थन करते हुए कहा कि हम सैन्य श्वान की पहचान की रक्षा कर रहे हैं। इससे पहले जनरल मार्क मिले ने पत्रकारों से कहा था, बगदादी के शव को फोरेंसिक डीएनए जांच के लिए एक सुरक्षित केन्द्र ले जाया गया था ताकि उसकी पहचान की पुष्टि की जा सके और उसके बाद उसका अंतिम संस्कार किया गया। यह प्रक्रिया पूरी हो चुकी है और इसे उचित तरीके से किया गया।
गौरतलब है कि इससे पहले अलकायदा सरगना ओसामा बिन-लादेन को समुद्र में दफनाया गया था। 2011 में पाकिस्तान के एबटाबाद में अमेरिकी कार्रवाई में लादेन मारा गया था। (एजेंसी)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 + nineteen =