सामूहिक विवाह योजना के लिए एबीएसए ने जारी किया ऐसा आदेश, सस्पेंड

लखनऊ। प्रदेश सरकार की ओर से सामूहिक विवाह योजना के निर्वाहन के लिए बेसिक शिक्षा परिषद के खंड शिक्षा अधिकारी ने एक ऐसा फरमान जारी कर दिया कि सोमवार को सारा दिन चर्चा का विषय बना रहा। दरअसल यूपी में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत गरीब कन्यायओं का विवाह प्रदेश सरकार अपने खर्चे पर करती है। इसमें आने वाला खर्च भी सरकार उठाती है। इस योजना को लेकर योगी सरकार का बेहद सराहनीय कदम भी बताया जा रहा है।
पूरा मामला सिदार्थ नगर के नौगढ़ ब्लाक का है, यहां 28 जनवरी को सामूहिक विवाह समारोह का आयोजन होना है। ऐसे में खंड शिक्षा अधिकारी धु्रव प्रसाद की ओर से 20 महिला शिक्षकों का दुल्हन को सजाने के लिए चयनित किया। इस संबंध में लिखित आदेश भी जारी कि दिया। आदेश के सोशल मीडिया पर वाॅयरल होने बाद दिनभर चर्चा का विषय बना रहा। इस पर कई शिक्षकों ने चुटकी भी ली।

इन शिक्षकों की दुल्हन को सजाने के लिए लगायी गयी ड्यूटी

दिन भर हुए बवाल बवाल के बाद बीएसए ने की एबीएसए पर कार्रवाई
लखनऊ। इस मामले में बेसिक शिक्षा अधिकारी सिदार्थ नगर डाॅ सूर्यकांत त्रिपाठी ने एबीएसए धु्रव प्रसाद का सस्पेंड कर दिया है। इस संबंध में आदेश भी जारी कर दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

20 + fifteen =