सीनियर पीसीएस की जगह तैनात कर दिए आईएएस-पीसीएस एसोसिएशन

-अपनी मांगो लेकर मुख्यमंत्री से मिले पीसीएस अफसर
-मुख्यमंत्री के सामने रखी अपनी मांगे

लखनऊ। जिन जगहों पर सीनियर पीसीएस अफसरों की तैनाती होनी चाहिए वहां पर आईएएस को तैनात कर दिया गया है। ऐसे में पीसीएस अधिकारियों के अधिकारों में कटौती की जा रही है। कुछ ऐसी ही तमाम समस्याओं को लेकर प्रदेश के पीसीएस ऐसोसिएशन के बैनर तले दर्जनो पीसीएस अधिकारियों ने शनिवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की। एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री को बताया कि जहां पर सीनियर पीसीएस की तैनाती होनी चाहिए वहां आईएएस की तैनाती कर उनके अधिकारों की कटौती की जा रही है। उन्होंने मुख्यमंत्री को बताया कि पीसीएस से आईएएस से प्रमोशन के लिए मैक्सिमम समय सीमा 8 साल की होती है। लेकिन यूपी में प्रमोशन में 23-24 साल लग जाते हैं। विकास प्राधिकरणों में उपाध्यक्ष का पद सीनियर पीसीएस के लिए चिन्हित किए जाते हैं लेकिन उन्नाव और शुक्लागंज विकास प्राधिकरण को छोड़कर बाकि सभी जगह आईएएस तैनात किए गए हैं। पीसीएस एसोसिएशन के मुताबिक अफसरों को संवेदनशील स्थानों पर तैनात करने के बाद भी उनकी सुरक्षा के लिए कोई विशेष नीति नहीं बनाई गई है। कुछ स्थानों पर पीसीएस अफसरों के साथ अभद्रता की गई है और पुलिस ने उन्ही के खिलाफ मामला भी दर्ज किया है। इसको लेकर एक नीति बनाई जाए कि ड्यूटी पर तैनात मजिस्ट्रेट के खिलाफ बिना शासन की अनुमति के केस दर्ज न किया जाए। उन्हें सुरक्षा शासन स्तर पर दी जाए इसके लिए मंडल के अधिकारियों के भरोसे पर न छोड़ा जाए.। पीसीएस अधिकारियों ने वेतन में लम्बे समय से बढ़ोत्तरी नहीं किए जाने की बात भी मुख्यमंत्री को बतायी। अधिकारियों ने कहा कि दिल्ली की तर्ज पर 5 साल में एक बार कार्यालय के उपकरणों और अन्य सुविधाओं के नवीनीकरण के लिए 1 लाख 25 हजार रुपए दिए जाने की व्यवस्था की जाए। अपर जिलाधिकारी न्यायिक के पदों पर तैनात वरिष्ठ पीसीएस अधिकारियों के लिए अच्छे वाहन, न्यायालय भवन, सुरक्षा आदि की समुचित व्यवस्था की जाए। अधिकारियों ने कहा कि 2०16 की रिक्तियों के सापेक्ष पीसीएस से आईएएस में प्रमोशन की पत्रावलियां काफी समय से लंबित हैं उन पर विचार कर के उसे समय से निस्तारित कराया जाए। साथ ही सरकारी राशन की दुकानों के सन्दर्भ में सभी अधिकार उप जिलाधिकारी के पास होते थे, जिसे वर्तमान में जिलापूर्ति अधिकारी को दे दिया गया है उसको पहले की तरह ही बनाया जाए। इस बारे में जानकारी देते हुए पीसीएस एसोसिएशन के अध्यक्ष उमेश प्रताप सिह ने बताया, हम अपनी मांगों को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ के पास गए थे। उन्होंने हमारी मांगों पर विचार कर जल्द कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

16 + 17 =