12460 शिक्षक भर्ती बहाल करने की मांग, अभ्यर्थियों ने मंत्री का घेरा, कोर्ट में सुनवाई बुधवार को

लखनऊ। बेसिक शिक्षा परिषद की ओर से संचालित प्राथमिक विद्यालयों के लिए 12460 शिक्षकों की भर्ती का मामला भले ही कोर्ट में हैं, लेकिन नाराज आभ्यर्थियों ने बुधवार को पहले बेसिक शिक्षा निदेशालय का घेराव किया। इसके एक घंटे बाद तकनीकी शिक्षा निदेशालय में प्रेस कान्फ्रेस करके निकले बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार डाॅ सतीश चन्द्र द्विवेदी का घेराव किया। इस दौरान अभ्यर्थियों ने 12460 शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया बहाल करने की मांग की। अभ्यर्थियों ने मंत्री को ज्ञापन भी सौंपा। अभ्यर्थियों ने मंत्री से ये भी कहा कि कोर्ट में सुनवाई के दौरान महाधिवक्ता समय से नहीं आते हैं इसलिए मामला लगातार टलता जा रहा है, इसलिए आप हमारी मदद कीजिए।
अभ्यर्थियों ने मंत्री को बताया कि वर्ष 2016 में सहायक अध्यापक पद के लिए 12460 पदों पर भर्ती प्रक्रिया शुरू की गई थी इसमें से आधे पदों पर शिक्षक नियुक्त भी हो चुके हैं लेकिन मार्च 2017 में नई सरकार आने के बाद शेष करीब 6000 पदों पर भर्ती रोक दी गई। इसके बाद 24 जिलों में शिक्षक पदों को शून्य घोषित कर दिया गया। इतना होने के बाद अभ्यर्थी कोर्ट चले गए और तब से मामला लंबित है।
4 मार्च को होनी है सुनवाई
राज्य सरकार की ओर से महाधिवक्ता को गुरुवार 4 मार्च को कोर्ट में अपना पक्ष रखना है। ऐसे में अभ्यर्थियों ने मंत्री से मांग की कि वह बकाया 6000 अभ्यर्थियों का भविष्य बचाने के लिए ठोस कदम उठाएं। अभ्यर्थियों ने कहा पिछले तीन वर्ष से वह दौड़ दौड़ कर परेशान हो गए हैं, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही।
अभ्यार्थियों को मिला आश्वासन
इस दौरान मंत्री डाॅ सतीश चन्द्र द्विवेदी ने अभ्यर्थियों को भरोसा दिलाया कि वह उनकी समस्या का समाधान निकालेंगे। उन्होंने अभ्यर्थियांे से ये भी कहा कोर्ट का मामला है पहले इसको प्रखुता से मैं समझूंगा उसके बाद जो भी होगा अभ्यर्थियों के हित का पूरा ध्यान रखा जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nineteen − 16 =