100 फीसदी सफल हुआ ट्रॉयल, वैक्सीन लेकर रूस का दावा

न्यूज डेस्क। रूस में कोरोना वायरस को लेकर तैयार की वैक्सीन का ट्रायल सौ प्रतिशत सफल हुआ है, यह दावा रूस की ओर से अधिका​रिक तौर से ट्वीटर पर किया गया है। रूस का कहना है कि उसकी ओर से तैयार कोरोना वायरस वैक्सीन क्लिनिकल ट्रायल में 100 फीसदी सफल रही है। इस वैक्सीन को मॉस्को स्थित रूसी स्वास्थ्य मंत्रालय से जुड़ी एक संस्था गेमालेया रिसर्च इंस्टीट्यूट ने बनाया है।

42 दिन पहले शुरू हुआ था ट्रॉयल
वैक्सीन का ट्रायल 42 दिन पहले शुरू हुआ था। ट्रायल रिपोर्ट के मुताबिक, जिन वॉलंटियर्स को वैक्सीन की खुराक दी गई उनमें वायरस के खिलाफ इम्युनिटी विकसित हुई है। किसी वॉलंटियर्स में निगेटिव साइडइफेक्ट नहीं मिले। ट्रायल के परिणाम के बाद रशिया सरकार ने वैक्सीन की तारीफ की है। हालांकि विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने इस वैक्सीन के इस्तेमाल को लेकर चेताया है। वहीं ब्रिटेन ने भी रशिया वैक्सीन के इस्तेमाल करने से इनकार कर दिया।

जीएएम—कोविड—वीएसी एलवाईवो नाम है वैक्सीन का
रूस सरकार का दावा है कि Gam-Covid-Vac Lyo नाम की ये वैक्सीन अगस्त में रजिस्टर हो जाएगी और सितंबर में इसका मास-प्रोडक्शन भी शुरू हो जाएगा। हालांकि अभी इस पर पूरे विश्व के चिकित्सा विशेषज्ञों को विश्व​वास करने में समय लग सकता है।

वैक्सीन के साथ कीमत भी चुनौती
जानकारों का मानना है कि वैक्सीन के साथ—साथ कीमत भी बड़ी चुनौती होती है, जानकार कहते हैं ​हम वैक्सीन तैयार हो यह अच्छी बात है, लेकिन उसकी कीमत ऐसी हो जो सभी आसानी से चुका सके यह और अच्छी बात है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.