किसानों को राहत देने के लिए प्रदेश में खुलेंगे 1० कृषि विज्ञान केन्द्र

लखनऊ। किसानों को कृषि तकनीक से संबधित आसानी से जानकारी मुहैया हो सके इसके लिए योगी सरकार ने एक बड़ा कदम उठाते हुए प्रदेश भर में 1० कृषि विज्ञान केन्द्र खोलने का निर्णय लिया है। जहां किसानों को उनकी आमदनी के लक्ष्य को दोगुना करने में भी मदद मिलेगी। मंगलवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में लखनऊ के लोकभवन में हुई हुई कैबिनेट की बैठक में इस फैसले पर मोहर लगाई गयी। कैबिनेट की बैठक में तय किया गया कि
इनमें छह कृषि विज्ञान केंद्र राजकीय कृषि प्रक्षेत्रों की जमीन पर खुलेंगे और अन्य चार केंद्रों के लिए राजस्व विभाग की बंजर जमीन ली जाएगी। बैठक के दौरान राजधानी में गंगा बाढ़ नियंत्रण केंद्र बनाये जाने का भी निर्णय लिया गया। ये केन्द्र उतरेठिया में बनेगा। जो कि गंगा बाढ़ कंट्रोल सेंटर खोलने के लिए जमीन देने के प्रस्ताव को कैबिनेट ने मंजूरी दे दी। इस सेंटर के निर्माण के लिए सिचाई विभाग गंगा बाढ़ नियंत्रण आयोग के लिए करीब 5 हजार वर्ग मीटर जमीन देगा। इस जमीन की कीमत करीब 7 करोड़ रुपये है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

fifteen − three =