सीएम योगी से मिले कश्मीरी छात्र, सीएम ने सुरक्षा और सुविधा का दिया आश्वासन

उत्तर प्रदेश। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से कश्मीरी छात्र-छात्राओं से मुलाकात की। मुलाकात से पहले सीएम आवास 5 कालीदास मार्ग पर सभी छात्र-छात्राओं का स्वागत किया गया है उन्हे सम्मान के साथ बैठाया गया। सीएम ने मुलाकात के दौरान सभी छात्र-छात्राओं को बातों को ध्यान से सुना और उनकी सुरक्षा और सुविधा का वादा भी किया। वहीं छात्र छात्राओं ने भी मुख्यमंत्री से मिलकर खुशी जतायी, साथ ही मुख्यमंत्री के व्यवहार की प्रंशसा भी की।
सीएम ने 370 पर जानी छात्रों की राय
ये सभी छात्र छात्राएं अलीगढ़ अलग-अलग संस्थानों में पढ़ते हैं, इन छात्रों के साथ सीएम ने जब संवाद किया उनसे अनुच्छेद 370 हटाने पर राय जानी, इस मौके पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह भी मौजूद थे। सीएम ने छात्रों से कहा कि उत्तर प्रदेश में पढाई का माहौल काफी अच्छा है। हम चाहते हैं कि आप लोग यहां पर इसका लाभ लें। उन्होंने कहा कि आप को श्रेष्ठ सुविधा तथा सुरक्षा देना हमारा काम है। आप जिस काम के लिए यहां पर आए हैं, उसको बेहतर ढंग से अंजाम दें।
सीएम ने कहा गोपनीय रहेगा संवाद
सीएम ने छात्रों से कहा कि हमारे आपके बीच का यह संवाद बेहद गोपनीय है। यह गोपनीय ही रहेगा। दूसरे राज्यों के छात्रों से संवाद और बातचीत राज्य की बेहतर छवि के लिए जरूरी है। सीएम योगी ने कहा कि वो सभी छात्रों का स्वागत करते हैं, और उन्हें खुशी है कि आप सभी छात्रों से संवाद का मौका मिला। मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेने के बाद ही उन्होंने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए थे कि दूसरे राज्यों और विदेश से यूपी में पढ़ाई करने आने वाले छात्रों से संवाद स्थापित किया जाए।
सीएम ने कहा कि सभी लोग हमसे बतायें अपनी समस्याएं
सीएम ने सभी छात्र-छात्राओं से कहा कि सभी लोग अपनी समस्या हमसे बताएं। हम यहां आप को सहयोग करने के लिए हैं। हम अधिकांश समस्याओं का समाधान करने के साथ आपके विश्वास में भी इजाफा करेंगे। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि तो राज्य स्तर पर मेरी और जिला प्रशासन की जिम्मेदारी बनती है आपको सुरक्षा और सुविधा प्रदान की जाये। मुख्यमंत्री ने कहा कई समस्याएं सिर्फ तभी शुरू होती हैं, जब कोई बातचीत नहीं होती। संवाद के अभाव में गंभीर समस्याएं जन्म ले लेती हैं। बातचीत से कई मुद्दे सुलझाए जा सकते हैं और चीजें बेहतर होती हैं। उन्होंने कहा कि हो सकता है कि आपके कई मुद्दे हों, जिन पर हम केंद्र सरकार का ध्यान आकर्षित करें और उन्हें सुलझाएं। सीएम ने कहा कि मैं खुद समस्या सुलझने तक मॉनीटर करूंगा।
लखनऊ पधारे इन करीब 70 कश्मीरी छात्र-छात्राओं को पर्यटन विभाग की तरफ से लखनऊ दर्शन की व्यवस्था भी की गई। प्रमुख सचिव पर्यटन जितेंद्र कुमार के अनुसार इन सभी छात्रों को विधानसभा, हजरतगंज, छतर मंजिल, रेजिडेंसी, बड़ा इमामबाड़ा, रूमी गेट, घंटा घर, सतखंडा के अलावा छोटा इमामबाड़ा, अंबेडकर स्मारक घुमाया जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

8 + one =