लखनऊ डीएम की दो टूक, बोर्ड परीक्षा में, दुरुस्त रखना होगा सीसी टीवी कैमरा

लखनऊ। यूपी बोर्ड 2०18 की परीक्षा में इस बार केन्द्रों पर किसी की मनमानी नहीं चलेगी। परीक्षा के दौरान डीएम भी निगरानी बनायें रख्ोंगे। डीएम कौशलराज शर्मा ने सोमवार को स्पष्ट कर दिया किया बिना सीसी टीवी कैमरे के परीक्षा नहीं होने देंगे केन्द्र कोई भी हो। उन्होंने कहा कि केन्द्र व्यवस्थापकों को इसके लिए पहले ही ध्यान देना होगा।
जिलाधिकारी ने बताया कि आगामी ०6 फरवरी 2०18 से यूपी बोर्ड की परीक्षाएं प्रारम्भ हो रही है परीक्षा को सकुशल सम्पन्न कराने के लिए सभी आवश्यक तैयारियॉं समय से पूरी कर ली जायें सभी परीक्षा केन्द्रो पर सी०सी०टी०वी० कैमरे लगवाये जायेंगे पूरी परीक्षा की रिकाîडग करवायी जायेगी और केन्द्र व्यवस्थापकों द्बारा उस रिकाîडग को अपनी सुरक्षा में रखा जायेगा जिससे आवष्यकता पडने पर केन्द्र व्यवस्थापक द्बारा रिकाîडग आसानी से उपलब्ध करवायी जा सकें।
जिलाधिकारी ने कहा कि निर्धारित किये गये परीक्षा केन्द्रो में यदि कोई मरम्मत योग्य कार्य हो तो उसे एक सप्ताह में पूर्ण कराकर फर्नीचर की प्र्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित कराकर जिला विद्यालय निरीक्षक को सूचना उपलब्ध करा दें। उन्होने कहा कि पकल विहीन परीक्षा कराना हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है। इसके लिए केन्द्र व्यवस्थापकों द्बारा स्टाफ के चयन में विशेष सर्तकता बबरती जायें। उन्होने कहा कि यदि कहीं नकल की कोई शिकायत प्राप्त होती है तो सम्बन्धित के विरूद्ध एफआईआर दर्ज कराके कठोर कार्यवाही की जायेगी। उन्होने कहा कि परीक्षा को नकल विहीन सम्पनन कराने के लिए मजिस्टेट की भी तैनाती की जायेगी। उन्होने जनपद की पांचो तहसीलों के उपजिलाधिकारियों को निर्देश दिये कि वह जिला विद्यालय निरीक्षक से अपने-अपने तहसील के परीक्षा केन्द्रो की सूची लेकर परीक्षा केन्द्रो का स्थलीय निरीक्षण कर लें कि उनकी तहसील क्षेत्र के अन्तर्गत बने परीक्षा केन्द्रो में कोई कमी तो नहीं है। उन्होने कहा कि शिक्षा विभाग के अतिरिक्त सभी उपजिलाधिकारियों की भी जिम्मेदारी होगी की वह अपनी-अपनी तहसील में नकल विहीन परीक्षा सम्पन्न करायें।
जिला विद्यालय निरीक्षक डा० मुकेश कुमार सिह ने बताया कि ०6 फरवरी 2०18 से सम्पन्न होने वाली यू०पी०बोर्ड की परीक्षा की सभी प्रारम्भिक तैयारियॉं पूरी कर ली गई है तथा सम्बन्धित अधिकारियों को नकल विहीन परीक्षा सम्पन्न कराने के लिए विस्तृत निर्देश जारी कर दिये गये है। उन्होने बताया कि जनपद में कुल 136 परीक्षा केन्द्र बनाये गये है। जिनमें 12 राजकीय विद्यालय, 5० मान्यता प्राप्त (गैर अनुदानित ) तथा शेष 74 अनुदानित (एडेट) विद्यालयों को परीक्षा केन्द्र बनाया गया है।
बैठक में अपर जिलाधिकारी प्रशासन श्रीप्रकाश गुप्ता, बेसिक शिक्षा अधिकारी प्रवीण मणि त्रिपाठी, समस्त उपजिलाधिकारी, केन्द्रो के केन्द्र व्यवस्थापक तथा सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

three + sixteen =