बीबीएयू के आरोपी छात्र को क्लास में बैठने की मिली अनुमति

लखनऊ। बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर केन्द्रीय विश्वविद्यालय (बीबीएयू) नये प्रॉक्टर प्रो. बीबी मलिक ने अपना कार्यभार ग्रहण करते हुए कई अहम निर्णय लिए हैं। इसमें उन्होंने जिस छात्र हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज था उसी छात्र को अब क्लास ज्वांइन करने की अनुमति प्रदान की है। जबकि इस छात्र पर पुलिस में हत्या के प्रयास में एफआईआर दर्ज कराई गई थी।
विश्वविद्यालय के बीए लोक प्रशासन विभाग के छात्र अनिशेष ने कुछ माह पहले एमएससी हार्टिकल्चर के छात्र विकास सोनकर पर परिसर के अन्दर गोली चलाई थी। पीड़ित छात्र की ओर से आशियाना थाने में अनिशेष पर धारा 307 के तहत मुकदमा दर्ज कराया गया था। इसके बाद तत्कालीन प्राक्टर प्रो. राम चन्द्रा ने अनिशेष को निलम्बित कर दिया था, लेकिन उनके हटाने के बाद नए प्राक्टर प्रो. बीबी मलिक ने अनिशेष को परीक्षा में बैठने की अनुमति देने का निर्णय लिया है। हालांकि उनके इस फैसले से प्राक्टोरियल बोर्ड में शामिल काफी शिक्षक खफा हैं। वहीं प्राक्टोरियल बोर्ड के कुछ दबंग शिक्षक अनिशेष के साथ खड़े हैं। सूत्रों ने बताया कि अनिशेष ने अपनी ओर से नहीं कहा है कि उसे परीक्षा में बैठने की अनुमति दी जाए। उसने केवल अपने प्रकरण को जल्द निस्तारित करने की मांग की थी। सूत्रों का कहना है कि प्राक्टर अनिशेष का निलम्बन भी वापस लेने की तैयारी कर रहे हैं। इसके साथ ही कई और बड़े फैसले अभी लिए जा सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

16 − seven =